You could put your verification ID in a comment Or, in its own meta tag

Thursday, 25 December 2014

TET NEWS

 

प्रशिक्षु शिक्षकों को हर हाल में 31 जनवरी तक नियुक्ति अमर उजाला ब्यूरो लखनऊ। प्रशिक्षु शिक्षकों की नियुक्ति हर हाल में 31 जनवरी तक कर ली जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया जल्द शुरू करने जा रही है। नियुक्ति पत्र मिलने के एक हफ्ते के अंदर जॉइन करना होगा। इसके लिए संबंधित जिले के बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मूल प्रमाण पत्रों को जमा करना होगा। यहां प्रमाण पत्रों का सत्यापन कराया जाएगा। इसके बाद प्रशिक्षु शिक्षकों को प्रशिक्षण अवधि तक मानदेय दिया जाएगा। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में यह निर्णय किया गया। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने प्राइमरी स्कूलों में चल रही 72,825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया छह सप्ताह के अंदर पूरी करने का आदेश राज्य सरकार को दिया है। सचिव बेसिक शिक्षा की अध्यक्षता में हुई बैठक में निर्णय हुआ कि अभ्यर्थी जिन जिलों में पात्र होगा, उसे वहां का नियुक्ति पत्र मिलेगा। जैसे यदि कोई अभ्यर्थी 10 जिलों में पात्र है तो उसे उन सभी जिलों से प्रशिक्षु शिक्षक का नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। हालाकि उसे एक हफ्ते के भीतर किसी एक जिलों में जॉइन करना होगा। टीईटी में सबसे पहले टॉप मेरिट वालों को मिलेगा मौका : नियुक्ति पत्र मिलने के एक हफ्ते के भीतर करना होगा जॉइन

जूनियर स्कूलों में 31 से शुरू होगी अनुदेशकों की भर्ती 26 राज्य ब्यूरो, लखनऊ : परिषदीय उच्च प्राथमिक स्कूलों में कला शिक्षा, शारीरिक एवं स्वास्थ्य शिक्षा (बीपीएड) और कार्यानुभव शिक्षा के लिए 11 हजार अंशकालिक अनुदेशकों की भर्ती प्रक्रिया 30 दिसंबर से शुरू होगी। इन पदों के लिए आन लाइन आवेदन लिये जाएंगे। आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 जनवरी होगी लेकिन 27 जनवरी तक ई-चालान के जरिये आवेदन शुल्क जमा करना होगा। कला शिक्षा के लिए आवेदन करने वाले को इंटरमीडिएट कला विषय के साथ बीए अथवा ड्राइंग या पेंटिंग के साथ बीए अथवा बीए के साथ कला में विशेष उपाधि या डिप्लोमा होना जरूरी है। शारीरिक शिक्षा के लिए स्नातक व व्यायाम शिक्षा में डिप्लोमा या किसी विश्वविद्यालय से व्यायाम शिक्षा में उपाधि या डिप्लोमा होना चाहिए। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि 11 माह की संविदा पर तैनात होने वाले इन अंशकालिक अनुदेशकों को प्रत्येक माह सात हजार रुपये वेतन मिलेगा। आवेदन के लिए एक जुलाई 2014 को अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 साल और अधिकतम आयु 40 साल होनी चाहिये। सामान्य व पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों के लोगों से दो सौ रुपये व अनुसूचित जाति के अभ्यर्थियों से सौ रुपया आवेदन शुल्क लिया जाएगा। बेसिक शिक्षाधिकारियों को 31 दिसबंर तक जिलेवार भर्ती का विज्ञापन निकालने का निर्देश दिया गया है। आवेदन की अंतिम तिथि 30 जनवरी 2015 होगी। ई-चालान के जरिए 27 जनवरी तक निर्धारित शुल्क जमा करना होगा। 1राज्य ब्यूरो, लखनऊ : परिषदीय उच्च प्राथमिक स्कूलों में कला शिक्षा, शारीरिक एवं स्वास्थ्य शिक्षा (बीपीएड) और कार्यानुभव शिक्षा के लिए 11 हजार अंशकालिक अनुदेशकों की भर्ती प्रक्रिया 30 दिसंबर से शुरू होगी। इन पदों के लिए आन लाइन आवेदन लिये जाएंगे। आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 जनवरी होगी लेकिन 27 जनवरी तक ई-चालान के जरिये आवेदन शुल्क जमा करना होगा। कला शिक्षा के लिए आवेदन करने वाले को इंटरमीडिएट कला विषय के साथ बीए अथवा ड्राइंग या पेंटिंग के साथ बीए अथवा बीए के साथ कला में विशेष उपाधि या डिप्लोमा होना जरूरी है। शारीरिक शिक्षा के लिए स्नातक व व्यायाम शिक्षा में डिप्लोमा या किसी विश्वविद्यालय से व्यायाम शिक्षा में उपाधि या डिप्लोमा होना चाहिए। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि 11 माह की संविदा पर तैनात होने वाले इन अंशकालिक अनुदेशकों को प्रत्येक माह सात हजार रुपये वेतन मिलेगा। आवेदन के लिए एक जुलाई 2014 को अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 साल और अधिकतम आयु 40 साल होनी चाहिये। सामान्य व पिछड़े वर्ग के अभ्यर्थियों के लोगों से दो सौ रुपये व अनुसूचित जाति के अभ्यर्थियों से सौ रुपया आवेदन शुल्क लिया जाएगा। बेसिक शिक्षाधिकारियों को 31 दिसबंर तक जिलेवार भर्ती का विज्ञापन निकालने का निर्देश दिया गया है। आवेदन की अंतिम तिथि 30 जनवरी 2015 होगी। ई-चालान के जरिए 27 जनवरी तक निर्धारित शुल्क जमा करना होगा।1

प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती : टॉप मेरिट वालों को मिलेगा मौका अमर उजाला ब्यूरो लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार प्रशिक्षु शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया 31 जनवरी तक हरहाल में पूरी कर ली जाएगी। प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में अब तक की हुई काउंसलिंग में सबसे पहले टॉप मेरिट वालों को मौका दिया जाएगा। उदाहरण के लिए सामान्य में 105 और आरक्षित वर्ग में 97 अंक से जिनके सबसे ज्यादा अंक होंगे उसे पहले प्रशिक्षु शिक्षक का नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। जॉइनिंग के बाद पद रिक्त होने पर टॉप मेरिट में दूसरे नंबर पर आने वालों को प्रशिक्षु शिक्षक का नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। खाली पदों का एकत्रित होगा ब्यौरा ः सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने बताया कि प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में एक-एक अभ्यर्थियों ने कई-कई जिलों में आवेदन कर रखा है। इसलिए टॉप मेरिट वालों का अमूमन सभी जिलों में चयन होना स्वाभाविक है। ऐसे अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र देने के बाद एक सप्ताह में जॉइन करने का मौका दिया जाएगा। इसके बाद ऐसे अभ्यर्थियों से पद खाली होने के बाद वरीयताक्रम में दूसरे नंबर पर आने वाले को मौका दिया जाएगा। ऑनलाइन संशोधन अब 26 तक एससीईआरटी ने प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती के लिए काउंसलिंग के बाद रिक्त पदों और औपबंधिक काउंसलिंग कराने वाले अभ्यर्थियों के आवेदन पत्रों में ऑनलाइन संशोधन की तिथि 26 दिसंबर तक कर दी है। डायट प्राचार्यों को निर्देश दिया है कि इस अवधि तक यदि संशोधन नहीं हो पाता है तो एक्सल फार्मेट पर पूरा ब्यौरा एससीईआरटी को उपलब्ध कराना होगा। काउंसलिंग कार्यक्रम में फेरबदल नहीं सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता कहते हैं कि प्रशिक्षु शिक्षक में अगले चरण की काउंसलिंग 2 जनवरी से प्रस्तावित है इसमें फिलहाल अभी कोई फेरबदल नहीं किया गया है। एससीईआरटी को निर्देश दिया गया है कि शेष बचे पदों के लिए सामान्य वर्ग को 105 और आरक्षित वर्ग को 97 अंक पर पात्र मानते हुए मेरिट जारी करते हुए काउंसलिंग कराई जाए।

 

31 तक जारी कर दिए जाएंगे नियुक्ति पत्र सामान्य वर्ग में 70 व आरक्षित में 65 फीसद से कम अंक वालों को मौका नहीं सीटे खाली रहने के आसार राज्य ब्यूरो, लखनऊ : सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के मद्देनजर बेसिक शिक्षा विभाग ने अब परिषदीय स्कूलों में 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती में मेरिट सूची में शामिल अभ्यर्थियों को पहले नियुक्ति पत्र जारी करने और फिर उनके शैक्षिक दस्तावेजों का सत्यापन कराने का फैसला किया है। प्रशिक्षु शिक्षक के रूप में चयनित अभ्यर्थियों के शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन के बाद ही उन्हें मानदेय का भुगतान किया जाएगा। प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश को अमलीजामा पहनाने के सिलसिले में बुधवार को सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिए गए। गौरतलब है कि शिक्षक भर्ती के लिए सितंबर 2011 में जारी शासनादेश में कहा गया था कि पहले डायट प्राचार्यो द्वारा अभ्यर्थियों के शैक्षिक दस्तावेजों का सत्यापन कराया जाएगा, इसके बाद ही उन्हें नियुक्ति पत्र जारी किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम आदेश में अभ्यर्थियों को छह हफ्ते में नियुक्ति पत्र जारी करने के लिए कहा है, लिहाजा विभाग ने तय किया है कि पहले जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) द्वारा नियुक्ति पत्र जारी किए जाएंगे। नियुक्ति पत्र लेते समय अभ्यर्थियों को बीएसए कार्यालय में अपने शैक्षिक अभिलेख जमा करने होंगे। नियुक्ति पत्र मिलने पर सात दिन में अभ्यर्थी को स्कूल में कार्यभार ग्रहण करना होगा। शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन के बाद प्रशिशु शिक्षकों को मानदेय का भुगतान शुरू होगा। बैठक के बाद सचिव बेसिक शिक्षा ने बताया कि अभ्यर्थियों को 31 जनवरी तक नियुक्ति पत्र जारी कर दिए जाएंगे ताकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा तय समयसीमा का अनुपालन हो सके। सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश पर अमल करते हुए नियुक्ति पत्र मेरिट सूची में शामिल उन्हीं अभ्यर्थियों को जारी किये जाएंगे जिन्हें शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2011 में सामान्य वर्ग के अंतर्गत न्यूनतम 70 प्रतिशत और आरक्षित वर्ग में कम से कम 65 फीसद अंक मिले हों। अब तक हुई तीन चरणों की काउंसिलिंग में कई जिलों में आरक्षित वर्ग के कट आफ अंक 65 फीसद अंक से कम गए हैं। वहीं कुछ जिलों में सामान्य वर्ग की कट ऑफ 70 प्रतिशत अंक से कम गई है। काउंसिलिंग करा चुके ऐसे अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र नहीं जारी किए जाएंगे। ऐसे में सीटें कुछ सीटें खाली रह जाने के आसार हैं। बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश का पालन किया जाएगा। यदि कुछ सीटें खाली रह जाती हैं तो कोर्ट को यह सूचित कर दिया जाएगा।

टीईटी 12 13 फरवरी को इस बार नहीं होगी भाषा टीईटी अमर उजाला ब्यूरो लखनऊ। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 12 13 फरवरी को कराई जाएगी। इस बार केवल प्राथमिक व उच्च प्राथमिक कक्षाओं के लिए टीईटी होगी और भाषा टीईटी नहीं होगी। इसके लिए विज्ञापन 29 दिसंबर को जारी कर दिया जाएगा और आवेदन 15 जनवरी तक किए जा सकेंगे। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने बुधवार को इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया है। कक्षा आठ तक के स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य है। टीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे। सामान्य वर्ग के लिए 400 व आरक्षित वर्ग के लिए 200 रुपये परीक्षा शुल्क रखा गया है। टीईटी प्राइमरी वर्ग के लिए 12 फरवरी को होगी। इसके लिए दो वर्षीय बीटीसी, दो वर्षीय डिप्लोमा इन एजुकेशन (डीएड) के अंतिम वर्ष में शामिल या उत्तीर्ण, विशिष्ट बीटीसी, उर्दू बीटीसी वाले पात्र होंगे। उच्च प्राथमिक के लिए टीईटी 13 फरवरी को होगी। इसके लिए बीएड व बीएलएड वाले पात्र होंगे।

 

बेसिक शिक्षा विभाग में नौकरियों की भरमार,1.32 लाख से ज्यादा सीटों पर शिक्षकों के साथ अनुदेशकों की होगी भर्ती


Breaking news
from etv up uk
ETV UP/UK
@ETVUPLIVE
लखनऊ-बेसिक शिक्षा विभाग में नौकरियों की भरमार,1.32 लाख से ज्यादा सीटों पर शिक्षकों के साथ अनुदेशकों की होगी भर्ती




 

 

एक बड़ा सवाल - क्या अकादमिक वाली 72825 शिक्षक भर्ती के विज्ञापन की फीस वापस होगी ??????

जो लोग पुराने विज्ञापन से नियुक्ति पा लेंगे , वे तो फीस वापस मांगेगे ही

लेकिन अभी विज्ञापन अधर में है और इसके ख़ारिज होने पर अभी फैसला बाकि है , मतलब आदेश आना बाकि है ।

;हालाँकि पुराना विज्ञापन बहाल होने के साथ ही नए विज्ञापन की किस्मत डूब गयी , क्यूंकि 72825 पद वही हैं जो पुराने विज्ञापन के थे ।

अब या तो अतिरिक्त पदों का सृजन हो या फिर विज्ञापन का निरस्तीकरण

आप लोग कमेंट के माध्यम से राय  दें - की क्या फीस वापस मिलेगी और अगर मिलेगी तो कब तक ?

क्या होगा नए विज्ञापन का

 

उच्च प्राइमरी में 11 हजार अनुदेशकों की होगी भर्ती

विज्ञापन 31 दिसंबर को और आवेदन 30 जनवरी तक

लखनऊ । बेसिक शिक्षा परिषद के उच्च प्राइमरी स्कूलों में करीब 11,000 अनुदेशकों की भर्तियां की जाएंगी। इसके लिए विज्ञापन 31 दिसंबर को जारी होगा और 30 जनवरी तक आवेदन लिए जाएंगे। शिक्षक भर्ती की तरह अनुदेशक भर्ती के लिए भी ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे। अनुदेशकों को 7000 रुपये प्रति माह मानदेय दिया जाएगा। जहां 100 से अधिक छात्र-छात्राएं होंगे वहीं अनुदेशकों को रखा जाएगा। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने बृहस्पतिवार को शासनादेश जारी कर दिया है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने उच्च प्राइमरी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को कला और व्यावसायिक शिक्षा दिलाने की व्यवस्था की है। सर्व शिक्षा अभियान राज्य परियोजना निदेशालय के प्रस्ताव पर 41,000 से अधिक अनुदेशकों की भर्ती का बजट मंजूर किया गया था।

इसमें करीब 11,000 पद रिक्त हैं। बेसिक शिक्षा अधिकारी इन पदों पर भर्तियां करेंगे और आवेदन के लिए उसी जिले का रहने वाला ही पात्र होगा। आवेदन के लिए 1 जुलाई 2014 को न्यूनतम 21 से 40 वर्ष तक वाले ही पात्र होंगे।

अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को अधिकतम पांच वर्ष की आयु सीमा में छूट दी जाएगी। निशक्त आवेदकों को यह छूट 15 वर्ष की होगी। अनुसूचित जाति, जनजाति के आवेदकों को 100 व अन्य को 200 रुपये तथा निशक्तों से कोई शुल्क नहीं देना होगा। इसके लिए स्टेट बैंक से ई-चालान बनवाना होगा।

भर्ती के लिए योग्यताः

कला शिक्षा के लिए इंटरमीडिएट कला विषय के साथ स्नातक या ड्राइंग अथवा पेंटिंग के साथ बीए या कीा में विशेष उपाधि या डिप्लोमा। स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा के लिए स्नातक तथा व्यायाम शिक्षा में डिप्लोमा या व्यायाम शिक्षा में उपाधि। कार्य शिक्षा में कंप्यूटर शिक्षा, गृह शिल्प एवं संबंधित कला, उद्यान विज्ञान व फल संरक्षण तथा कृषि विषय की शिक्षा दी जाएगी। कंप्यूटर शिक्षा के लिए बीएससी इन कंप्यूटर साइंस या कंप्यूटर में ए लेवल कोर्स, गृहशिल्प व संबंधित कला के लिए गृह विज्ञान या गृह अर्थशास्त्र या घरेलू विज्ञान में स्नातक, उद्यान विज्ञान व फल संरक्षण के लिए बीएससी कृषि के साथ फल संरक्षण में डिप्लोमा वाले पात्र होंगे। इसी तरह कृषि शिक्षा में बीएससी कृषि वाले आवेदन के लिए पात्र होंगे।

-------

भर्ती में कब क्या

= जिलेवार विज्ञापन31 दिसंबर

= शुल्क की अंतिम तिथि27 जनवरी

= आवेदन की अंतिम तिथि30 जनवरी

= ऑनलाइन त्रुटि सुधार सकेंगे16 फरवरी

= मेरिट जारी होगी2 मार्च

= काउंसलिंग12 मार्च

= डीएम से अनुमोदन19 मार्च

= तैनाती आदेश देंगे25 मार्च

= जॉइन1 अप्रैल से

News sabhar : अमर उजाला ब्यूरो

Basic Shiksha UP News, Model School Recruitment in UP: प्राइमरी इंग्लिश मीडियम स्कूलों में शिक्षकों का चयन 20 तक

 

लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद नए शैक्षिक सत्र अप्रैल से जर जिला मुख्यालयों पर दो-दो मॉडल प्राइमरी स्कूलों का संचालन शुरू करने जा रहा है।

इसके लिए शिक्षकों का चयन 20 जनवरी तक हरहाल में पूरा कर लिया जाएगा। प्रत्येक स्कूल में पांच शिक्षक होंगे जिसमें एक प्रधानाध्यापक होगा। शिक्षकों के चयन के लिए प्रत्येक जिलों में डायट प्राचार्यों की अध्यक्षता में समिति होगी। सचिव बेसिक शिक्षा परिषद संजय सिन्हा ने इस संबंध में बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश भेज दिया है। राज्य सरकार निजी स्कूलों की तर्ज पर हर जिला मुख्यालयों पर दो-दो प्राइमरी इंग्लिश मीडियम स्कूल चलाने जा रही है।

इनमें कक्षा तीन तक इंग्लिश मीडियम और कक्षा 45 में हिंदी व अंग्रेजी दोनों माध्यम की शिक्षा दी जाएगी। परिषदीय स्कूलों में कार्यरत इंग्लिश मीडियम में पढ़ाने में सक्षम शिक्षकों का चयन मॉडल स्कूलों के लिए किया जाएगा। इसके लिए जिलेवार शिक्षकों से आवेदन लिए जाएंगे।

प्रधानाध्यापक के लिए ग्रामीण तथा नगर क्षेत्र में कार्यरत प्राथमिक विद्यालयों के ऐसे प्रधानाध्यापक व उच्च प्राइमरी के सहायक अध्यापक को पात्र माना जाएगा जिन्होंने इंटर तक इंग्लिश मीडियम में शिक्षा प्राप्त की होगी और पढ़ाने में दक्ष होंगे।

सहायक अध्यापक के लिए प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत वे शिक्षक पात्र होंगे जिन्होंने इंग्लिश मीडियम में शिक्षा प्राप्त की होगी और बच्चों को पढ़ा सकें। इसी तरह एक अध्यापक का भी चयन किया जाएगा। इसके लिए 50 अंक की लिखित व 50 अंक का साक्षात्कार होगा। डायट प्राचार्यों की अध्यक्षता में समिति होगी इसमें संबंधित जिले का बेसिक शिक्षा अधिकारी सदस्य सचिव होगा।

 

 

 

 

72825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती : हर हाल में 31 जनवरी तक नियुक्ति; सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया जल्द शुरू करने जा रही

Posted: 26 Dec 2014 09:57 AM

लखनऊ (ब्यूरो)। प्रशिक्षु शिक्षकों की नियुक्ति हर हाल में 31 जनवरी तक कर ली जाएगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राज्य सरकार नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया जल्द शुरू करने जा रही है। नियुक्ति पत्र मिलने के एक हफ्ते के अंदर जॉइन करना होगा। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में यह निर्णय किया गया। यदि कोई अभ्यर्थी 10 जिलों में पात्र है तो उसे उन सभी जिलों से प्रशिक्षु शिक्षक का नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। हालाकि उसे एक हफ्ते के भीतर किसी एक जिलों में जॉइन करना ...

उच्च प्राथमिक स्कूलों में विज्ञान व गणित शिक्षकों के रिक्त करीब 2800 पदों के लिए काउंसलिंग 78 जनवरी को

Posted: 24 Dec 2014 07:56 PM PST

विज्ञान-गणित शिक्षक की छठी काउंसलिंग 78 को उच्च प्राथमिक स्कूलों में विज्ञान व गणित शिक्षकों के रिक्त करीब 2800 पदों के लिए काउंसलिंग 78 जनवरी को कराई जाएगी। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने बुधवार को इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया है। छठे चरण की काउंसलिंग के लिए बीस गुना अभ्यर्थियों को बुलाया जाएगा। गौरतलब है कि विज्ञान व गणित शिक्षक के 29,334 पदों के लिए अब तक पांच चरणों की काउंसलिंग हो चुकी है, जिसमें से करीब 2800 पद खाली हैं।     खबर साभार : अमर...

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपीटीईटी- UPTET) 1213 फरवरी को : इस बार नहीं होगी भाषा टीईटी

Posted: 26 Dec 2014 09:57 AM

टीईटी 1213 फरवरी कोइस बार नहीं होगी भाषा टीईटी लखनऊ। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 1213 फरवरी को कराई जाएगी। इस बार केवल प्राथमिक व उच्च प्राथमिक कक्षाओं के लिए टीईटी होगी और भाषा टीईटी नहीं होगी। इसके लिए विज्ञापन 29 दिसंबर को जारी कर दिया जाएगा और आवेदन 15 जनवरी तक किए जा सकेंगे। सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने बुधवार को इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया है। कक्षा आठ तक के स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए टीईटी पास होना अनिवार्य है। टीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन लिए...

प्रदेश में बीएड का एक सिलेबस होगा : दाखिले के लिए फरवरी में मिलेंगे फॉर्म; शासन ने 2015-16 के लिए समय-सारिणी की तय

Posted: 26 Dec 2014 09:57 AM

खबर साभार :   हिन्दुस्तान बीएड में दाखिले के लिए फरवरी में मिलेंगे फॉर्म शासन ने 2015-16 के लिए समय-सारिणी की तयसुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बनेगी नई नियमावली लखनऊ। सूबे में बीएड में दाखिले के लिए आवेदन फॉर्म फरवरी में मिलने शुरू हो जाएंगे। शासन ने वर्ष 2015-16 में दाखिले के लिए समय-सारिणी तय कर दी है। प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा कल्पना अवस्थी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में तय किया गया कि दाखिले की प्रक्रिया फरवरी में शुरू होगी और 1 जुलाई को खत्म हो जाएगी

बीटीसी अभ्यर्थियों के लिए सहायक अध्यापक बनने को ऑनलाइन आवेदन : एक ही फॉर्म भरने से मनचाहे जिलों में किया जा सकेगा आवेदन

Posted: 26 Dec 2014 09:57 AM

सहायक अध्यापक बनने के लिए भरना होगा एक फॉर्म इलाहाबाद (ब्यूरो)। बीटीसी अभ्यर्थियों के लिए प्राथमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक बनने को ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गए हैं। खास यह कि इस बार अभ्यर्थियों को अलग-अलग जिलों में काउंसिलिंग के लिए अलग-अलग फॉर्म नहीं भरने पड़ेंगे। एक ही फॉर्म से काम चल जाएगा। इससे पूर्व अभ्यर्थी जितने जिलों में काउंसिलिंग के लिए आवेदन करते थे, उन्हें उतने जिलों के लिए अलग से फॉर्म भरने पड़ते थे। फॉर्म भरने के साथ तमाम औपचारिकताएं भी पूरी करनी पड़ती हैं,

बीपीईडी (BPED) डिग्री अब बैठे आमरण अनशन पर : परिषदीय विद्यालयों में शारीरिक शिक्षकों की मांग पर अडिग

Posted: 26 Dec 2014 09:57 AM

स्थाई नियुक्ति की मांग को लेकर बीपीएड डिग्रीधारकों का धरना आमरण अनशन में बदल गया। बुधवार को 21 डिग्रीधारकों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी। प्रदेश सरकार पर लगाते हुए डिग्रीधारकों ने लिखित आश्वासन मिलने तक आमरण अनशन समाप्त करने का एलान किया। प्रशिक्षित बीपीएड संघर्ष मोर्चा उप्र के आह्वान पर विभिन्न जिलों से राजधानी आए सैकड़ों डिग्रीधारक लक्ष्मण मेला स्थल पर दूसरे दिन भी डटे रहे। डिग्रीधारकों ने एकत्र होकर प्रदेश सरकार के खिलाफ अनशन शुरू किया।