You could put your verification ID in a comment Or, in its own meta tag

Monday, 5 January 2015

TET NEWS

72,825 शिक्षक भर्ती: चौथी काउंसलिंग की तारीख तय-  9 से 14 जनवरी तक होगी काउंसलिंग
****************************
प्राइमरी स्कूलों में चल रही 72,825 प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती में खाली पदों के लिए चौथी काउंसलिंग 9 से 14 जनवरी तक होगी। इसके लिए सामान्य वर्ग में न्यूनतम 105 और आरक्षित वर्ग में 97 अंक वाले पात्र होंगे। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) के निदेशक सर्वेंद्र विक्रम ने सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिया।

वेबसाइट http://upbasiceduboard.gov.in से 7 से 14 जनवरी तक काउंसलिंग कार्ड लोड किए जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि पहले चरण में 9 से 11 जनवरी तक टीईटी में न्यूनतम 105 अंक पाने वाले सामान्य वर्ग के पुरुष व 97 अंक पाने वाले आरक्षित वर्ग के पुरुष तथा 12 से 14 जनवरी तक 105 अंक पाने वाली सामान्य वर्ग की महिला और 97 अंक पाने वाली आरक्षित वर्ग की महिला अभ्यर्थियों की काउंसलिंग की जाएगी।

काउंसलिंग के लिए पात्र अभ्यर्थियों को अपने समस्त मूल शैक्षिक, प्रशिक्षण, आरक्षण, विशेष आरक्षण, निवास प्रमाण-पत्र, पहचान प्रमाण-पत्रों तथा उनकी स्वहस्ताक्षरित छायाप्रति, पासपोर्ट साइज की दो नवीनतम रंगीन फोटो के साथ भरे गए फॉर्म वाले जिलों में संबंधित डायटों पर सुबह 10 बजे से पहुंचना होगा।
पात्रों की सूची भी डाली जाएगी वेबसाइट पर
********************************

काउंसलिंग रिक्त पदों के सापेक्ष की जाएगी। जिन अभ्यर्थियों ने पूर्व की काउंसलिंग में मूल प्रमाण पत्र जमा कर दिए हैं, वे उसे वापस ले सकते हैं। ऐसे अभ्यर्थियों की पात्रता निरस्त नहीं की जाएगी।

एससईआरटी तीन चरणों की काउंसलिंग में पाए गए पात्रों की सूची भी वेबसाइट पर डालेगा। अभ्यर्थी इसे देख सकेंगे। इसके आधार पर वे संबंधित जिलों में अपना मूल प्रमाण पत्र जमा करते हुए नियुक्ति पत्र प्राप्त कर सकेंगे। नियुक्ति पत्र प्राप्त करने के सात दिन के अंदर उन्हें संबंधित स्कूलों में जॉइन करना होगा।

इसके पहले एससीईआरटी ने नेशनल इन्फॉरमेटिक सेंटर (एनआईसी) को तीन चरणों की काउंसलिंग के पात्रों की सूची सौंप दी थी।

इसके पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी हर हाल में 31 जनवरी तक नियुक्ति का आदेश दिया था, जिसके बाद सरकार ने भर्ती प्रक्रिया में तेजी दिखाई थी।
इस तरह लिए गए थे निर्णय
********************
पहले राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससईआरटी) के निदेशक ने बताया था कि चौथी काउंसलिंग पर बाद में निर्णय किया जाएगा।

जिसके बाद उम्मीद की जा रही ‌थी कि तीन चरणों की काउंसलिंग के पात्रों को नियुक्ति पत्र देने के बाद चौथी काउंसलिंग पर विचार किया जाएगा। वहीं, एससीईआरटी ने नेशनल इन्फॉरमेटिक सेंटर (एनआईसी) को तीन चरणों की काउंसलिंग के पात्रों की सूची सौंप दी थी।

पहले भी रिक्त पदों के लिए चौथे चरण की काउंसलिंग का कार्यक्रम जारी किया गया था। इसके आधार पर एससीईआरटी को गुरुवार को मेरिट जारी करना था, लेकिन नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया शुरू होने के चलते चौथे चरण की काउंसलिंग टाल दी गई थी।
डायट प्राचार्यों ने भी की गलतियां
************************
प्रशिक्षु शिक्षक भर्ती को लेकर डायट प्राचार्यों की भूमिका पर भी सवाल उठाए गए थे। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) के स्पष्ट निर्देश के बाद भी लखनऊ समेत 43 जिलों ने पात्रों के नाम नहीं भेजे थे।

जिसके बाद एससीईआरटी निदेशक सर्वेंद्र विक्रम सिंह ने हर हाल में पात्रों के नाम भेजने को कहा था जिससे नियुक्ति पत्र देने की प्रक्रिया शुरू कराई जा सके।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर सचिव बेसिक शिक्षा एचएल गुप्ता ने 31 जनवरी तक हर हाल में सामान्य वर्ग के 70 फीसदी और आरक्षित वर्ग के 65 फीसदी अंक वालों को प्रशिक्षु शिक्षक का पात्र मानते हुए नियुक्ति पत्र देने का निर्देश दिया था।


गणित-विज्ञान के शिक्षकों की काउंसिलिंग को कवायद
मैनपुरी, भोगांव: उच्च प्राथमिक विद्यालयों में गणित और विज्ञान के शिक्षकों के पदों को भरने के लिए शासन ने एक प्रयास और किया है। गणित-विज्ञान के शिक्षकों की पांच चरण की काउंसिलिंग के बाद खाली रह गए पदों को भरने के लिए छठवें चरण की काउंसिलिंग बुधवार से डायट पर होगी। जनपद में फिलहाल विज्ञान के 3 और गणित के 20 पद रिक्त पड़े हैं।

वर्ष 2013 में प्रदेश सरकार द्वारा परिषदीय उच्च प्राथमिक विद्यालयों में गणित-विज्ञान के शिक्षकों की कमी को दूर करने के लिए जनपदवार पदों का सृजन कर आवेदन मांगे थे।

इस शिक्षक चयन प्रक्रिया के तहत मैनपुरी जनपद को गणित-विज्ञान दोनों में 170-170 पद दिए गए थे। इस प्रक्रिया में तेजी लाते हुए शासन ने जुलाई से काउंसिलिंग शुरू कराई थी। शुरुआती चरण की काउंसिलिंग में आवेदकों द्वारा जनपद में नियुक्ति के लिए कोई खास उत्साह न दिखाए जाने से शासन को निरंतर अग्रिम काउंसिलिंग करानी पड़ी थी। 5 चरण की काउंसिलिंग पूरी होने के बाद जनपद में विज्ञान के 170 में से 167, गणित के 170 में 150 पद भरे जा चुके हैं।

प्रक्रिया में खाली पड़े पदों को भरने के लिए शासन ने विगत दिनों छठवें चरण की प्रदेशव्यापी काउंसिलिंग का कार्यक्रम जारी किया था। 7 और 8 जनवरी को जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान पर काउंसिलिंग प्रक्रिया आयेाजित की जाएगी। चयन समिति के द्वारा खाली पदों को भरने के लिए कट ऑफ मेरिट के अंतर्गत आने वाले अभ्यर्थियों की काउंसिलिंग इस दौरान कराई जाएगी।

डायट प्राचार्य आरएस बघेल ने बताया कि छठवें चरण की काउंसिलिंग के लिए शासन ने कार्यक्रम भेज दिया है। पहले दिन बुधवार को विज्ञान की जबकि दूसरे दिन गुरुवार को गणित के आवेदकों की काउंसिलिंग डायट पर चयन समिति के द्वारा कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि इस बावत अभ्यर्थियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिए गए थे।