You could put your verification ID in a comment Or, in its own meta tag

Saturday, 29 June 2013

बीएड 2013-14 सत्र के लिए कालेज आवंटन की प्रक्रिया पूरी


बीएड 2013-14 सत्र के लिए कालेज आवंटन की प्रक्रिया पूरी
गोरखपुर : बीएड 2013-14 सत्र के लिए कालेज आवंटन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी रिक्त रह गई 42,231 सीटों को भरने के लिए कवायद शुरू हो गई है। अब दो से सात जुलाई तक पूल प्रक्रिया द्वारा इन सीटों को भरने का प्रयास किया जाएगा। राज्य बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा-2013 के समन्वयक प्रो. सुरेंद्र दुबे ने बताया कि जिन केंद्रों पर सीटें खाली हैं यदि उन कालेजों का प्रशासन चाहे तो पूल काउंसिलिंग के लिए सहमति दे सकता है। इसके लिए उन्हें 30 जून तक कुलसचिव दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय को अवगत कराना होगा। वहीं जो अभ्यर्थी इसमें शामिल होना चाहते हैं वह 29 जून से बीएड की वेबसाइट से अपना काउंसिलिंग पत्र डाउनलोड कर सकते हैं।
पूल प्रक्रिया दो से सात जुलाई तक चलेगी। इसके लिए गोरखपुर विश्वविद्यालय के तीन केंद्र और सीएसजेएम विश्वविद्यालय कानपुर को काउंसिलिंग केंद्र बनाया गया है।

यह है पूल काउंसिलिंग :

- प्रवेश परीक्षा दिए वे सभी छात्र इसमें शामिल हो सकेंगे जिन्होंने प्रवेश परीक्षा में एक नंबर भी पाया हो।
-अभ्यर्थी द्वारा इस प्रक्रिया में कालेज नहीं विश्वविद्यालय का विकल्प देना होता है। अभ्यर्थी को कालेज कौन सा मिलेगा यह उसकी मेरिट स्वत: तय करेगी।
- फीस पहले जमा होगी, जिसकी वापसी नहीं होती।

TET-2013 Environmental Education Solution
Q ANS
1.ozone day> 16 sept
2.silviculture > forest and forest product
3.chandraprabha wildlife centuary->Vanarasi
4.secondary consumer-->lion
5.jhum cutivation---->Meghalaya
6.dry ice--->CO2
7.which of the following international---->UNESCO
8.chemical used for cloud seeding-->silver iodide
9.biodesel----->jatropha
10.most important element of weather--->rainfall
11.which is the coldest layer of atmosphere--->mesosphere
12.which of the following is greenhouse gas-->methane
13.Project tiger was launched-------->1973
14.the imaginary line of the earth----->international date line
15.in which of the following state gulf of mannar--->tamil nadu
16.according to cencus 2011 sex ratio--------->940:1000
17.which amimal is farmers friend----------->earthworm
18.out of the following.............not any marine------>rajasthan
19.pollution level of river..................>BOD
20.the disease cused by virus...............>commoncold
21.lichens are------->symbionts
22. C.N.G----------------->vehicles
23.environmental awareness->group discussion
24.LPG->liquified petroleum gas
25.Ozone layer absorbs->UV rays
26.bat is a mammal because-------->gives birth
27.environment is defined as>abiotic and biotic components
28.to save environment-chipko movement------>uttarakhand
29.study of behavior of animals>Ethology
30.sea weeds the cheif source >iodine

UPTET 2013 : जेएलएन कालेज केंद्र पर ‘मुन्नाभाई’ दबोचा


एटा। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के दूसरे दिन जेएलएन पीजी कालेज केंद्र पर एक ‘मुन्नाभाई’ दबोचा गया। आरोपी दूसरेअभ्यर्थी की जगह परीक्षा दे रहा था।शिकायत पर हुई कार्रवाई में
फर्जी परीक्षार्थी की पोल खुली। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। केंद्र व्यवस्थापक ने
दोनों (असली व नकली अभ्यर्थी) केविरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है।जनपद में दूसरे दिन की शिक्षक
पात्रता परीक्षा में एक मुन्नाभाई को दबोचने में सफलता अर्जित की गई।जवाहर लाल नेहरू महाविद्यालय केंद्र पर आवेदक जलेसर क्षेत्र निवासी देवेंद्र प्रताप सिंह पुत्र नरोत्तम सिंह के स्थान पर आगरा के थाना एत्मादपुर के नगला रामबल निवासी अशोक कुमार पुत्र निरंजन सिंह परीक्षा दे रहा था। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एसएस यादव के मोबाइल पर लगभग साढ़े ग्यारह बजे एक अज्ञात व्यक्ति ने इस फर्जीवाड़े
की जानकारी दी।
मामले पर गंभीर बीएसए ने इसकी सूचना जेएलएन कालेज के प्राचार्य को दी। प्राचार्य ने केंद्र पर मौजूद
पर्यवेक्षक के साथ उक्त युवक से जानकारी की तो पहले तो उसने स्वयं को देवेंद्र बताया लेकिन वह प्राचार्य के
अन्य प्रश्नों का सही उत्तर नहीं दे सका। बाद में उसने स्वीकार कर लिया कि वह अशोक कुमार है। आरोपी के
विरुद्ध कोतवाली नगर में प्राथमिकी दर्ज कराई गई। बताते चलें कि उक्त मुन्नाभाई ने प्रवेश पत्र पर
फोटो भी अपना लगा रखा था। इसके चलते कक्ष निरीक्षक उसे संदिग्ध नहीं मान सके।
दूसरे दिन उच्च प्राथमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा में 7706 आवेदक थे। सुबह की पाली में 7003 आवेदकों के लिए बारह केंद्रों पर परीक्षा कराई गई। वहीं शाम की पाली में 703 आवेदकों के लिए दो केंद्र
बनाए गए थे।
-----------
303 ने छोड़ी परीक्षा
एटा। दूसरे दिन की परीक्षा में 303 अभ्यर्थियों ने परीक्षा छोड़ दी। सुबह की पाली में 7003 परीक्षार्थियों में से
केवल 6759 ही शामिल हुए। वहीं शाम की पाली में पंजीकृत 703 आवेदकों में से 644 ने परीक्षा दी। ऐसे में सुबह 244 एवं शाम को 59 आवेदक अनुपस्थित रहे।
-UPTET दूर होगी शिक्षकों की कमी
Anudeshak Samvida Teacher Recruitment UP
लखनऊ  सूबे में बेसिक शिक्षा परिषद के उच्च प्राथमिक विद्यालयों (जूनियर स्कूल) में पहली जुलाई से 41307 संविदा अनुदेशकों की तैनाती कर दी जाएगी। इसके लिए जिले स्तर पर बीएसए कार्यालयों से अनुदेशकों को नियुक्ति पत्र जारी होने लगे हैं और उन्हें शैक्षिक सत्र के पहले ही दिन अपने विद्यालयों में उपस्थिति दर्ज करानी होगी। उच्च प्राथमिक स्कूलों में अनुदेशकों की नियुक्ति होने के बाद कला शिक्षा, स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा तथा कार्यानुभव शिक्षा की पढ़ाई को मजबूती मिलेगी। जूनियर स्कूलों में इन संविदा अनुदेशकों को 11 महीने के लिए नियुक्त किया गया है और हर महीने 7000 हजार रुपये मानदेय के तौर पर दिये जाएंगे। अनुदेशक शिक्षकों की तैनाती शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के तहत सप्लीमेंट्री प्लान के तहत की जा रही है। इन पदों को सर्व शिक्षा अभियान के तहत केन्द्र सरकार ने पिछले वर्ष ही स्वीकृत किया था। प्रदेश में 100 से ज्यादा छात्र संख्या वाले 13769 उच्च प्राथमिक स्कूलों में इनकी तैनाती की गयी है। अंशकालिक अनुदेशकों को कक्षा छह से आठ तक बेसिक शिक्षा परिषद के निर्धारित पाठयक्रम व तय पाठयपुस्तकों से पढ़ाई करानी होगी। जिला स्तर पर चयन होने के बाद जिलाधिकारी के अनुमोदन से नियुक्ति पत्र जारी होने लगे हैं और अनुदेशकों को प्रधानाध्यापक या फिर प्रभारी अध्यापक के नियंतण्रमें रखा जाएगा। हर वर्ष जिलाधिकारी के अनुमोदन से चयनित संविदा अनुदेशको का रिनिवल होगा। उन्हें वर्ष में दस दिनों तक आकस्मिक अवकाश मिलेगा। प्रदेश में सर्वाधिक 1695 अनुदेशकों का चयन सीतापुर में किया गया है, इसके बाद हरदोई में 1380, लखीमपुर-खीरी में 1269, आजमगढ़ में 1122, इलाहाबाद में 1059, सुलतानपुर में 1020, जौननपुर में 1014, शाहजहांपुर में 939, रायबरेली में 828 अनुदेशक चयनित किये गये हैं, इसके साथ कुछ जिलों में अभी निर्धारित संख्या में अनुदेशकों का चयन तो हो चुका है, लेकिन उनके संविदा पर रखे जाने की प्रक्रिया अभी तक पूरी नहीं हो पायी है। इसके चलते नियुक्तिपत्र जारी होने में दिक्कतें आ रही हैं। शैक्षिक सत्र शुरू होने से पहले उच्च प्राथमिक स्कूलों में संविदा शिक्षकों की तैनाती प्रक्रिया को हर हाल में पूरा करने का निर्देश दिया है। इसके लिए प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार के साथ ही निदेशक बेसिक शिक्षा व अनुदेशकों की तैनाती के मामले देख रही अतिरिक्त निदेशक और सचिव बेसिक शिक्षा परिषद से भी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों के साथ मॉनीटरिंग तेज कर दी गयी है। उल्लेखनीय है कि 41307 संविदा अनुदेशकों के पद 71 जिलों के हिसाब से किये गये थे, लेकिन अब जिलों की संख्या बढ़कर 75 हो गयी है, ऐसे में बढ़े जिलों में अनुदेशकों को मूल जिले से चयनित विद्यालयों को भी भेजा जाएगा। मालूम हो कि जूनियर स्कूलों में शिक्षकों की सीधी भर्ती नहीं होती है, बल्कि प्राथमिक विद्यालयों के लिए चयनित शिक्षक ही प्रोन्नति पाकर जूनियर स्कूलों में जाते हैं, लेकिन प्रदेश में दो वर्ष से शिक्षकों की भर्ती नहीं हो पायी है, इसके साथ ही प्रोन्नतियों में भी दिक्कतें आ रही थी। इसके चलते सर्व शिक्षा अभियान के तहत इन अनुदेशकों की सीधी भर्ती संविदा के तहत कर दी गयी है।

41 हजार संविदा अनुदेशक पहली से होंगे तैनात बीएसए स्तर से जारी होने लगे नियुक्ति पत्र 7000 रुपये प्रतिमाह के मानदेय पर 11 महीने करेंगे अध्यापन उच्च प्राथमिक विद्यालय
UPTET 2013 : परीक्षार्थियों ने पानी में बैठकर दी परीक्षा
UPTET 2013 : परीक्षार्थियों ने पानी में बैठकर दी परीक्षा










सुल्तानपुर (ब्यूरो)। गुरुवार रात से ही हो रही बरसात की वजह से शुक्रवार को आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा में अव्यवस्थाएं हावी रहीं। गनपत सहाय महाविद्यालय के कई कक्षों में तो परीक्षार्थियों को पानी में बैठकर परीक्षा देनी पड़ी। केशकुमारी राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में भी कक्षों में पानी टपक रहा था। केंद्रों पर रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था भी नहीं थी। शुक्रवार को जूनियर स्तर की हुई शिक्षक पात्रता परीक्षा से 376 परीक्षार्थियों ने किनारा कर लिया। पांचों परीक्षा केंद्रों पर आवंटित 7,580 में 7,204 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी।
शुक्रवार को शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए शहर में पांच केंद्र बनाए गए थे। प्रथम पाली की परीक्षा में राजकीय इंटर कॉलेज में आवंटित एक हजार परीक्षार्थियों में 47 अनुपस्थित रहे। केशकुमारी राजकीय बालिका इंटर में 961 परीक्षार्थियों ने भाग लिया। 39 छात्र-छात्राएं अनुपस्थित रहे। राणा प्रताप महाविद्यालय में आवंटित 1003 परीक्षार्थियों में से 951 ने परीक्षा दी।
52 स्टूडेंट्स ने परीक्षा से हाथ खड़े कर लिए। केएनआई और गनपत सहाय महाविद्यालय में आवंटित डेढ़-डेढ़ हजार परीक्षार्थियों में क्रमश: 75 व 90 अनुपस्थित रहे। द्वितीय पाली में जीआईसी में एक हजार में 967 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। 33 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। केशकुमारी राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में 577 परीक्षार्थियों में 40 ने परीक्षा से किनारा कर लिया। 537 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। परीक्षा के दौरान प्रशासनिक तैयारियां नाकाफी रहीं। बारिश होने से ज्यादातर परीक्षा केंद्रों में अव्यवस्थाएं हावी रही। परीक्षा के दौरान उड़ाका दल व खंड शिक्षाधिकारियों के नेतृत्व में बनाए गए पर्यवेक्षकों का दल छापेमारी करता रहा। बीईओ ओंकार सिंह, संजय यादव, पंकज यादव, एसबी सिंह व वैद्यनाथ कश्यप एक-एक परीक्षा केंद्र पर डटे रहे। डीआईओएस राजशेखर सिंह ने बताया कि शिक्षक पात्रता परीक्षा शांतिपूर्वक हुई। परीक्षा में कोई नकलची नहीं पकड़ा गया है