You could put your verification ID in a comment Or, in its own meta tag

Thursday, 20 June 2013

uptet news of 20 june 2013


उच्च प्राइमरी स्कूलों में विज्ञान और गणित के सहायक अध्यापक पदों पर भर्ती-
प्रदेश में उच्च प्राइमरी स्कूलों में विज्ञान और गणित के सहायक अध्यापक पदों पर प्राइमरी से पहले भर्ती की जाएगी। इस संबंध में संशोधित प्रस्ताव सचिव कार्यालय बेसिक शिक्षा परिषद इलाहाबाद ने भेज दिया है।
उच्च प्राइमरी स्कूलों में पहले रिक्त सीटों के 50 फीसदी पदों पर पदोन्नति की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। इसके बाद शेष 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती की जाएगी। इस संबंध में जल्द शासनादेश जारी करने की तैयारी है।
उत्तर प्रदेश में मौजूदा समय 46,000 उच्च प्राइमरी स्कूल हैं। इन स्कूलों में विज्ञान और गणित शिक्षक के 58,666 पद रिक्त हैं। राज्य सरकार विज्ञान और गणित को बढ़ावा देना चाहती है। इसलिए उच्च प्राइमरी स्कूलों में इन पदों पर सीधी भर्ती की योजना तैयार की गई है।
इस संबंध में शासन ने बेसिक शिक्षा परिषद से संशोधित प्रस्ताव मांगा था। इसमें कहा गया था कि पदोन्नति से कितनी सीटें भरी जाएंगी और कितनी सीधी भर्ती होगी। परिषद ने संशोधित प्रस्ताव भेज दिया है। इसके मुताबिक रिक्त 58,666 पदों में से आधे 29,333 पद को पदोन्नति से पहले भरा जाएगा।
इन पदों पर प्राइमरी स्कूल के प्रधानाध्यापकों को पदोन्नति दी जाएगी। बेसिक शिक्षा अध्यापक सेवा नियमावली के मुताबिक प्राइमरी स्कूलों में सहायक अध्यापक के पद पर नियुक्त शिक्षकों को तीन साल की सेवा पर प्राइमरी स्कूलों में प्रधानाध्यापक या उच्च प्राइमरी स्कूलों में सहायक अध्यापक बनाया जाता है।
प्रदेश में मौजूदा समय पदोन्नति प्रक्रिया चल रही है। इसलिए पहले आधे पदों को पदोन्नति से भरा जाएगा और इसके बाद रिक्त आधे पदों पर सीधी भर्ती की जाएगी।
 प्रदेश के 867 केंद्रों पर होगी टीईटी परीक्षा

इलाहाबाद : प्रदेश में दूसरी बार होने जा रही शैक्षिक पात्रता परीक्षा (टीईटी) विभिन्न जिलों के 867 केंद्रों पर होगी। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने इसकी तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है। सभी अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र वेबसाइट पर डाल दिए गए हैं। जिला स्तर पर बनी समितियां परीक्षा का आयोजन कराएंगी। इन समितियों के अध्यक्ष जिलाधिकारी होंगे।
इस बार टीईटी परीक्षा में आवेदन करने वालों की संख्या दोगुनी से भी अधिक है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार पूरे प्रदेश में कुल सात लाख 65 हजार 634 अभ्यर्थी हैं। परीक्षा 27-28 जून को संपन्न होगी। पहले दिन सुबह की पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा और सायंकाल भाषा की परीक्षा होगी। इसी तरह अपर प्राइमरी परीक्षा दूसरे दिन और सायंकाल भाषा की परीक्षा होगी। प्राथमिक स्तर की परीक्षा के लिए 174 केंद्र बनाए गए हैं। इस दिन भाषा की परीक्षा 77 केंद्रों पर होगी। इसी तरह अपर प्राइमरी परीक्षा के लिए 867 केंद्र हैं। अपर प्राइमरी के लिए भाषा की परीक्षा 169 केंद्रों पर होगी।
परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय के अनुसार अभ्यर्थियों की तकनीकी गड़बड़ियों के चलते एक लाख 28 हजार 409 प्रवेश पत्र निरस्त कर दिए गए हैं। इसको लेकर मंगलवार को दिन भर कार्यालय में जमावड़ा लगा रहा। कार्यालय सूत्रों के अनुसार अधिकांश गड़बड़ियां फोटो स्कैन करके न लगाने के कारण हैं। चूंकि यह गड़बड़ी अभ्यर्थियों की खुद की है, इसलिए शासन स्तर पर भी इन्हें राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।
बीएड प्रवेश परीक्षा 2013 में 20 जून से मिलेगा काउंसिलिंग पत्र
लखनऊ : उत्तर प्रदेश संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा 2013 में अब 1,50,001 से 1,90,000 के बीच रैंक पाने वाले अभ्यर्थियों को भी काउंसिलिंग में शामिल करने का फैसला किया गया है। इसके अलावा जो अभ्यर्थी द्वितीय चरण की काउंसिलिंग में शामिल हुए हैं वे अब 21 जून तक पसंदीदा कालेजों के बारे में अपनी च्वाइस आनलाइन बता सकते हैं। बीएड परीक्षा समन्वयन समिति ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है।
राज्य संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा के समन्वयक प्रो.सुरेंद्र दुबे ने गोरखपुर में बताया कि सीटों की उपलब्धता को ध्यान में रखते हुए अब 1,50,001 से 1,90,000 रैंक के अभ्यर्थियों की भी काउंसिलिंग कराई जाएगी। इसके लिए 20 जून से काउंसिलिंग पत्र वेबसाइट से डाउनलोड किए जा सकेंगे। इनकी काउंसिलिंग 22 जून को होगी। उसी दिन ये अभ्यर्थी अपनी पसंद के कालेजों का विकल्प आनलाइन पद्धति से भर सकते हैं। प्रो.दुबे ने बताया कि 25 जून को अंतिम रूप से आवंटित कालेजों की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी। अभी तक के कार्यक्रम के अनुसार एक से 1,50,000 रैंक के अभ्यर्थियों को ही काउंसिलिंग के लिए बुलाया गया था।
वहीं द्वितीय चरण में शामिल अभ्यर्थी अब 19,20 व 21 जून तक च्वाइस लाक कर सकते हैं। अब तक इन्हें 18 जून तक ही अपनी पसंद बतानी थी।