You could put your verification ID in a comment Or, in its own meta tag

Tuesday, 25 June 2013

tet bharti


 दो प्रतियों में लाना होगा प्रवेशपत्र, जमा करनी होगी छायाप्रति
लखनऊ: टीईटी में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को प्रवेशपत्र की छायाप्रति कक्ष निरीक्षक के पास जमा करनी होगी। छायाप्रति जमा करने पर ही कक्ष निरीक्षक उत्तर पत्रक अभ्यर्थियों को देंगे।

टीईटी की शर्तों में उलझे अभ्यर्थी
शिक्षक पात्रता परीक्षा अभ्यर्थियों के लिए भूल भुलैया बनकर रह गई है। सरकारी निर्णय से बीएड करने वालों की उलझनें लगातार बढ़ती जा रही हैं। इस बार टीईटी परीक्षा में शामिल होने की शर्तें इतनी कठिन कर दी हैं कि अभ्यर्थी उनमें उलझकर रह गए हैं। इन नियमों के तहत बड़ी संख्या में अभ्यर्थी परीक्षा नहीं दे पाएंगे।
27 और 28 जून को शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन होना है। जिसमें पूर्व बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों के आवेदन निरस्त कर दिए गए है। निरस्त करने के कारणों की लंबी सूची जारी की गई है। जबकि आवेदन के विज्ञापन में योग्यता संबंधी शर्तें नहीं दी गई थी। आवेदन के लिए सामान्य वर्ग से 500 रुपये फीस ली गई। अब लगाई गई शर्तों के आधार पर परीक्षा में शामिल होने की पात्रता निरस्त से आवेदकों ने रोष है। अधिकांश अभ्यर्थियों का कहना है कि पहले शर्तें दर्शायी गई होती तो आवेदन ही नहीं करते। जिन आवेदकों का आवेदन निरस्त हुआ है उन्हें कोई राहत भी मिलने नहीं जा रही है।


ऑनलाइन जारी होंगे अनुदेशक भर्ती नियुक्ति पत्र
इलाहाबाद : प्रदेश भर के उच्च प्राथमिक विद्यालयों के लिए भर्ती किए जा रहे अनुदेशकों को एक जुलाई से पहले नियुक्ति पत्र दिए जाने का निर्देश जारी किया गया है। यह निर्देश राज्य अपर परियोजना निदेशक डॉ. मीना शर्मा की ओर से जिलाधिकारियों को जारी किया गया है। पत्र में स्पष्ट किया गया है कि समयबद्धता के साथ नियुक्ति प्रक्रिया पूरी कर ली जाए। सभी अभ्यर्थियों के नियुक्ति पत्र ऑनलाइन जारी किए जाने का भी निर्देश दिया गया है।
सौ से ज्यादा विद्यार्थी संख्या वाले उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कम्प्यूटर शिक्षा, गृहविज्ञान और संबंधित कला, कृषि शिक्षा और उद्यान विज्ञान, फल संरक्षण के अंशकालिक अनुदेशकों की संविदा पर तैनाती की जा रही है। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन के बाद 30 अप्रैल, आठ मई और 31 मई को काउंसिलिंग कराई जा चुकी है। इलाहाबाद में कुल 1059 पद घोषित किए गए थे। तीन बार की काउंसिलिंग के बाद भी 740 पद ही भरे जा सके हैं। अभी भी कला में 143, शारीरिक शिक्षा में 28, कंप्यूटर में 46, गृहशिल्प में 47, उद्यान विज्ञान में 51 और कृषि में चार पद रिक्त हैं। अनुदेशक भर्ती के लिए कुछ पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों का टोटा है। इलाहाबाद में उद्यान कार्यानुभव के 51 पद के लिए कोई योग्य उम्मीदवार ही नहीं है जिन्हें काउंसिलिंग के लिए बुलाया जाए।
एडी बेसिक करा रहे हैं जांच
संयुक्त शिक्षा निदेशक बेसिक शिक्षा इलाहाबाद के निर्देश पर अनुदेशक भर्ती के लिए चयनित अभ्यर्थियों के प्रमाणपत्रों की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद जिलाधिकारी के पास अंतिम चयन सूची का अनुमोदन कराया जाएगा। अंततोगत्वा नियुक्ति पत्र जारी किया जाएगा। अपर परियोजना निदेशक ने 31 मई को प्रदेश के सभी बीएसए को एक पत्र जारी किया था। इस पत्र में कहा गया है कि सीएमजे विश्वविद्यालय शिलांग मेघालय, ईआइआइएलएम विश्वविद्यालय गंगटोक, सिक्किम के डिप्लोमा डिग्री लगाने वाले उम्मीदवारों को भर्ती से बाहर कर दिया जाए। सर्व शिक्षा अभियान कार्यालय के अनुसार कला में 73 समेत लगभग 80 अभ्यर्थियों की इस तरह की संदिग्ध डिग्री पायी गई है। गौरतलब है कि उपरोक्त संदिग्ध विश्वविद्यालय की निरस्तीकरण प्रक्रिया के लिए मेघालय के राज्यपाल की ओर से निर्देश दिया जा चुका है और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा भी इसकी जांच कराई जा रही है।